खबरें देश विदेश

इमरान खान ने रोया कश्मीर पर रोना, परमाणु युद्ध की बात

हाइलाइट्स
* कश्मीर के मामले पर हर जगह दो टूक जवाब पाने वाला पाकिस्तान बेहद परेशान है
* इमरान खान ने अपनी आवाम को संबोधित करते हुए कहा, उनका साथ कोई नहीं दे रहा है
* इमरान खान ने कहा कि यूएन ताकतवर लोगों के साथ ही खड़ा होता है
* इमरान खान ने परमाणु युद्ध की धमकी भी दी और कहा कि इससे पूरी दुनिया तबाह होगी

इस्लामाबाद/एजेंसी

कश्मीर से अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। उसने यूएन से लेकर मुस्लिम देशों तक का दरवाजा खटखटाया लेकिन हर जगह निराशा ही हाथ लगी। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने भी सोमवार को स्वीकार किया कि कश्मीर का मामला द्विपक्षीय है और उन्होंने पीएम मोदी पर भरोसा जताया। फ्रांस में मोदी और ट्रंप की मुलाकात के कुछ देर बाद ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी आवाम को संबोधित करते हुए खुद को कमजोर बताते हुए कहा कि आज उनका साथ कोई नहीं दे रहा है। इस दौरान इमरान ने परमाणु युद्ध की धमकी भी दी और कहा कि ऐसे युद्ध का कोई नतीजा नहीं निकलेगा और दुनिया तबाह हो जाएगी।

इमरान ने की आवाम को भरोसे में लेने की कोशिश
दरअसल, इस समय पाकिस्तान के आर्थिक हालात काफी खराब हैं। ऐसे में इमरान खान ने अपने संबोधन के जरिए अपनी आवाम को साधने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि कश्मीर का मुद्दा वह न्यू यॉर्क और अन्य बड़े देशों के सामने उठाएंगे। उन्होंने कहा कि इस मामले में यूएनएससी की बैठक होने से ही मामला अंतरराष्ट्रीय हो गया है और पूरी दुनिया का ध्यान खींचा गया है। आपको बता दें कि यूएनएससी की बैठक में भी भारत ने स्पष्ट किया था कि यह भारत का आंतरिक मामला है और किसी को दखल देने की जरूरत नहीं है। इमरान खान ने निराशा जताते हुए कहा कि आज दुनिया की ताकतें और मुसलमान देश भी मजबूरी की वजह से उनके साथ नहीं हैं लेकिन वक्त के साथ वह उनका साथ जरूर देंगे। उन्होंने कहा, ‘आप मायूस न हों, हम पूरी दुनिया में कश्मीर के ऐंबेसडर बनेंगे। मैं 27 सितंबर को यूएन में यह मुद्दा उठाऊंगा।’

‘हर हफ्ते करेंगे इवेंट’
अपने नए प्रॉपेगैंडा की बात करते हुए इमरान ने कहा कि कश्मीर के लोगों को भरोसा देने के लिए पूरे देश में हर हफ्ते एक इवेंट किया जाएगा जिसमें स्कूल, कॉलेज और सरकारी दफ्तरों के लोग हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा कि इस शुक्रवार को सभी लोग दोपहर 12 से 12:30 बजे के बीच बाहर निकलेंगे।

यूएन को कोसते हुए परमाणु युद्ध की धमकी
यूएन में कश्मीर का मुद्दा उठाने के बाद पाकिस्तान को मुंह की खानी पड़ी। इस पर इमरान खान ने कहा , ‘यूएन की जिम्मेदारी है कि कमजोर के साथ खड़े हों लेकिन वह हमेशा ताकतवर का ही साथ देता है। सवा अरब की आबादी आपकी तरफ देख रही है।’ उन्होंने परमाणु हथियारों की धमकी देते हुए कहा कि दोनों तरफ परमाणु हथियार हैं। अगर युद्ध हुआ तो दोनों देशों के साथ पूरी दुनिया तबाह होगी। इमरान ने कहा, ‘हम कश्मीर के लिए किसी भी हद तक जाएंगे।’

मोदी ने की ऐतिहासिक गलती : इमरान
इमरान खान ने आगे कहा कि पीएम मोदी ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाकर ऐतिहासिक गलती की है। इससे कश्मीर पर दुनिया का ध्यान चला गया और मुद्दा अंतरराष्ट्रीय हो गया। उन्होंने संबोधन की शुरुआत आरएसएस को कोसते हुए की और कहा कि पहले की हुकूमत भी आरएसएस पर दहशतगर्दी का इल्जाम लगा चुकी है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *