अन्य ख़बरें पहनावा

फैशन में काले रंग का अपना बोलबाला

काला रंग विरोध के लिए भी सबसे मजबूत हथियार के रूप में प्रयोग किया जाता है। डिजाइनर प्रतिमा पांडेय कहती हैं कि पुराने दौर में भले ही काले रंग को एक अशुभ रंग के रूप में देखते रहे हों मगर अब यह सब बदल चुका है। ब्लैक कलर के टॉप और साड़ियों की सबसे ज्यादा मांग होती है, क्योंकि यह रंग महिलाओं को बॉडी फिटिंग सिल्हूट् वाला आत्मविश्वास देता है। फैशन राइटर अस्मिता अग्रवाल से जानते हैं ब्लैक कलर क्यों स्टाइल स्टेटमेंट बन गया है…

छोटी ब्लैक ड्रेस का जादू हमेशा कायम रहता है
डिजाइनर निखिता टंडन कहती हैं कि मैंने स्कल्प्टेड इवनिंग गाउन बनाए हैं, जो महिलाओं की शारीरिक संरचना के अनुरूप हैं। वे कहती हैं कि हमारे पास कई महिलाएं आती हैं, जो ऐसी ड्रेसेस की मांग करती हैं, जिसमें वह पतली दिखाई दें और हम उन्हें काले रंग को चुनने का सुझाव देते हैं क्योंकि यह ऐसा रंग हैं जिसे पहनते ही आपका वजन कुछ पाउंड कम दिखाई देने लगता है। वह कोको शनैल थीं जिन्होंने 1940 में महिलाओं को कॉर्सेट से मुक्त करने और आजाद होकर सांस लेने के लिए एक छोटी ब्लैक ड्रेस बनाई। वह ब्लैक ड्रेस ऐसी थी जिसे दिन से लेकर रात तक कभी भी पहन सकते थे और यह ड्रेस किसी भी अवसर के लिए एक आइकॉनिक ड्रेस थी। इसी को कहा जाता है एसबीडी यानी शॉर्ट ब्लैक ड्रेस जिसका जादू कभी कम नहीं हुआ।

पैनटोन बताता है साल का रंग
पैनटोन हर साल रुझानों के आधार पर रंग जारी करता है और पिछले साल यह रंग मूंगा था और इस साल यह रंग पीला है। भले ही चलन में कोई भी रंग हो लेकिन ब्लैक की चमक कभी फीकी नहीं होती है। डिजाइनर शेन पीकॉक कहते हैं कि जब हम दूल्हे के लिए कोई ड्रेस डिजाइन करते हैं तो ज्यादातर पुरुष हमेशा ब्लैक रंग ही स्पेशल ओकेजन के लिए पहनना चाहते हैं। हम इसे एक जश्न की तरह देखते हैं और इसमें सीक्विन और फेदर जोड़ते हैं। मगर मेन्सवेयर में ब्लैक शेरवानी, नेहरू जैकेट, बंदगला सबसे अधिक लोकप्रिय है। वहीं अधिकांश महिलाएं ब्लैक कलर का लहंगा चाहती हैं जो कि रेड या फूशिया चोली के साथ कंट्रास्ट लुक देता है। ब्लैक लहंगे पर किसी भी रंग से कढ़ाई करने से उसकी चमक और अधिक उभरकर आती है।

हर उम्र से परे है ये रंग
डिजाइनर गौरव गुप्ता ने कुछ समय पहले ही शू लाइन पेश की है और इसमें सभी जूते ब्लैक कलर के और काफी अलंकृत और आकर्षक थे। वह कहते हैं कि लाल, नीला या हरा रंग बिना कुछ कहे अपनी उपस्थिति इस तरह दर्ज नहीं करा पाता जिस तरह ब्लैक कराता है। ब्लैक कलर उम्र से भी परे है। अगर आप 60 से अधिक उम्र की हैं, तो शबाना आजमी की तरह या फिर 22 साल की हैं, तो युवा तारा सुतारिया की तरह किसी भी ब्लैक ड्रेस को अपने अलग अंदाज़ में पहन सकती हैं। डिजाइनर विश्वास करते हैं कि ब्लैक और वाइट बेस्ट कॉम्बिनेशन है, क्योंकि यहखूबसूरती को और निखारता है।

एसेसरीज में भी हिट
ब्लैक कलर इतना खूबसूरत है कि इसकी कोई भी एसेसरीज किसी के भी साथ मैच हो जाती है। ज्यादातर महिलाएं ऑनलाइन ब्लैक कलर का बैग ऑर्डर करती हैं और किसी भी आउटफिट के साथ मैच करती हैं। डिजाइनर निखिता टंडन कहती हैं कि ब्लैक कलर ऐसा है कि इसे साल भर में किसी भी समय पहना जा सकता है। मेरे पास कई ब्लैक शज़ू हैं जिन्हें मैं किसी भी कलरफुल ड्रेस के साथ मैच करती हूं।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *