झारखंड

अपहरण के 6 घंटे बाद ही अपराधियों के चंगुल से मुक्त हुए डीलर

* अपहरण की सूचना सोशल मीडिया पर वायरल होने पर एसपी ने पुलिस को सर्च अभियान चलाने का निर्देश दिया

पलामू/संवाददाता

पुलिस के दबाव में अपराधियों ने अपहरण के महज छह घंटे बाद ही डीलर दयाशंकर प्रसाद को छोड़ दिया। पुलिस ने सर्च अभियान के दौरान उसे काचन के जंगल से बरामद कर लिया। फिलहाल दयाशंकर प्रसाद पुलिस अभिरक्षा में रामगढ़ थाना में है, जहां पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

बताया गया कि दयाशंकर प्रसाद उर्फ बिट्टू रामगढ़ प्रखंड के माधोखाड़ के रहने वाले हैं और उनका चैनपुर में भी अपना मकान है। शनिवार की सुबह 6:30 बजे के करीब वह अपने चैनपुर घर से राशन बांटने के लिए काचन के लिए निकले। काचन जाने के क्रम में वह कुछ देर के लिए अपने माधोखाड़ स्थित मकान पर गए। वहां से काचन जाने के दौरान दो बाइक पर सवार पांच नकाबपोश अपराधियों ने उनका अपहरण कर लिया।

अपहरण की सूचना सोशल मीडिया पर वायरल होने पर एसपी अजय लिंडा ने रामगढ़ व चैनपुर पुलिस को चारों आेर घेराबंदी कर सर्च अभियान चलाने का निर्देश दिया। इसके आलोक में चैनपुर इंस्पेक्टर राजीव शाही, चैनपुर थाना प्रभारी सुमित कुमार व रामगढ़ थाना प्रभारी ने संयुक्त रूप से काचन जंगल में सर्च अभियान चलाया। सर्च अभियान में पुलिस ने घटनास्थल से कुछ दूरी पर अपहृत की बाइक और चप्पल बरामद की थी।

इसकी सूचना पाकर दयाशंकर प्रसाद की पत्नी घटनासथल पर पहुंची तथा पति के चप्पल व बाइक को देखकर रोने-बिलखने लगी। हालांकि वहां पर मौजूद लोगों ने उसको किसी तरह से ढांढ़स बंधाया। सर्च अभियान के दौरान पकड़े जाने के भय से अपराधियों ने दोपहर एक बजे के करीब दयाशंकर को छोड़ दिया और फरार हो गए। डीएसपी सुरजीत कुमार ने बताया कि पुलिस द्वारा अपहरण हुए व्यक्ति को सही सलामत बरामद कर लिया गया है और अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *