देश

घर के सामने की ही सड़क ठीक नहीं करा पाए CM

हाइलाइट्स
* कर्नाटक में सड़कों की हालत सुधारने के बीएस येदियुरप्पा सरकार के दावे फेल
* सत्ता के 97 दिन पूरे, सीएम के घर के सामने की सड़क भी नहीं हो पाई दुरुस्त
* सीएम के घर के पास की सड़क पर 29 गड्ढे, फर्नीचर, लैंप और रेलिंग भी टूटी

बेंगलुरु/एजेंसी

कर्नाटक में बीजेपी की सरकार को सत्ता में लौटे 100 दिन होने वाले हैं लेकिन प्रदेश की सड़कों की स्थिति सुधारने का दावा करने वाले सीएम बीएस येदियुरप्पा अपने घर से के सामने की सड़क अभी तक दुरुस्त नहीं करा पाए। सीएम का काफिला जिस रास्ते का इस्तेमाल करता है, उस पर एक किमी के अंदर 29 गड्ढे हैं। सीएम हर रोज इसी रास्ते से गुजरते हैं लेकिन सत्ता में आने के 97 दिन बाद तक न तो सड़क के गड्ढों को भरा जा सका है और न सड़क की मरम्मत कराई गई है।

सड़क किनारे के फर्नीचर, लैंप्स और रेलिंग भी क्षतिग्रस्त
इस बदहाल सड़क की वजह से सिर्फ सीएम को परेशानी नहीं होती बल्कि इसका इस्तेमाल करने वाले सैकड़ों लोगों और सड़क के किनारे दुकान लगाने वाले छोटे दुकानदार भी परेशान हैं। सीएम द्वारा इस्तेमाल की जाने वाले अश्वत्थनगर से एमएस रामैया हॉस्पिटल तक फैले सड़क पर सिर्फ गड्ढे एकमात्र समस्या नहीं हैं। 80 फीट की इस सड़क पर स्पीडब्रेकर्स की वजह से भी काफी गड्ढे हो गए हैं। साथ ही सड़क के किनारे लगे फर्नीचर, लैंप्स और रेलिंग भी क्षतिग्रस्त हैं। वीवीआईपी इलाके में ऐसी बदहाल सड़क से राज्य के अन्य स्थानों की सड़कों के हालात का अंदाजा लगाया जा सकता है।

सीएम का दावा- सड़कें बेहतर करना सरकार की प्राथमिकता
बता दें कि सीएम लगातार प्रदेश के मार्गों को बेहतर बनाने का आश्वासन देते रहे हैं। बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम येदियुरप्पा ने दावा किया था कि सरकार प्रदेश में सड़कों पर गड्ढों की समस्या को प्राथमिकता के आधार पर देख रही है। इस दौरान सीएम ने कहा कि बेंगलुरु में दुनिया भर से लोग आते हैं। ऐसे में शहर का गौरव बचाने के लिए सड़कों का बेहतर स्थिति में होना जरूरी है। उन्होंने आश्वासन दिया था कि अगले 3-4 महीने में सड़कों स्थिति सुधारने की दिशा में उल्लेखनीय परिवर्तन देखने को मिलेगा।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *